Hindi Love Kavita 2024: सच्चे प्यार के जज़्बात!

Hindi Love Kavita 2024: दिल के जज़्बात की कोई एक्सपायरी डेट नहीं होती है। यह सदाबहार है। यह तब तक जीवित रहेगा, जब तक यह सृष्टि रहेगी। फिलहाल यह अहसास बहुत दिन पहले लिखा गया था। पर, इसकी भावना आज भी उतनी ही जवान है, जितनी जब यह लिखी गई थी। पढ़िए, जिन्हें आप पसंद करते हैं, उनके साथ शेयर कीजिए, जिन्हें आप जान मानते हैं! पेश है मोहब्बत की स्याही से लिखी गर्लफ्रेंड के लिए हिंदी में लव कविता (Love Kavita In Hindi For Girlfriend- Love Kavita Hindi Me)

Hindi Love Kavita 2024: किसी ने सच कहा है कि दिल के जज़्बात की कोई एक्सपायरी डेट नहीं होती है। यह सदाबहार है। यह तब तक जीवित रहेगा, जब तक यह सृष्टि रहेगी। फिलहाल यह कविता बहुत दिन पहले लिखी गई थी। पर, इसकी भावना आज भी उतनी ही जवान है, जितनी जब यह लिखी गई थी। पढ़िए, जिन्हें आप पसंद करते हैं, उनके साथ शेयर कीजिए, जिन्हें आप जान मानते हैं! पेश है मोहब्बत की स्याही से लिखी गर्लफ्रेंड के लिए हिंदी में लव कविता (Love Kavita In Hindi For Girlfriend- Love Kavita Hindi Me)

सच्चे प्यार के जज़्बात (Hindi Mein Kavita 2024)

चुप-चुप के तेरा तकना
छुप-छुप के तेरा हंसना
चोरी से मेरे पास आना
पास आ के संभल जाना
यही अदा मुझे भाती है
सीने में आग लगाती है
अजनबी तुम अच्छे लगे
दिल में मेरे घर कर गए।।

बिना कोई श्रृंगार किए
रूप तेरा ताजमहल लगे
जब भी तुझसे नयन मिले
दिल में मेरे कमल खिले
यही सादगी मुझे भाती है
मुझसे ही मुझे चुराती है
अजनबी तुम अच्छे लगे
दिल में मेरे घर कर गए।।

तेरे आने की आहट से
बेचैनी से राहत मिले
शहद-सी मीठी बातों से
रोम-रोम मेरा खिले
यही खूबी मुझे भाती है
रातों की नींद चुराती है
अजनबी तुम अच्छे लगे
दिल में मेरे घर कर गए।।

एक कविता सुंदरता के नाम (Love Kavita In Hindi For Girlfriend)

सारा ये जहान जब सोया होगा
कुदरत ने तुझे तब बनाया होगा
गंगा जैसा निर्मल तेरा है मन
चंदन-सा महकता तेरा है बदन
चाँद जैसा तेज़ है तेरा चेहरा
फूलों से रिश्ता है तेरा गहरा
सारा ये जहान जब सोया होगा
कुदरत ने तुझे तब बनाया होगा।।

तेरी सादगी का नहीं कोई जोड़ है
खुदा की कसम तू सबसे बेजोड़ है
अजब-सी अदा है तेरी आँखों में
गजब-सी जादू है तेरी बातों में
सारा ये जहान जब सोया होगा
कुदरत ने तुझे तब बनाया होगा।।

एक नज़र तू जिसे देख ले
दिल अपना यूँ ही फेंक दे
मोरनी के जैसी तेरी चाल है
परियाँ भी देख के बेहाल हैं
सारा ये जहान जब सोया होगा
कुदरत ने तुझे तब बनाया होगा।।

Love Kavita In Hindi For Girlfriend

तेरी साँसों से गुलाब की खुशबू आए
तेरी हँसी से बंजर में गुल खिल जाए
जिस महफ़िल में तेरे कदम पड़ जाए
दुनिया की सारी हसीनाएं शरमा जाए
सारा ये जहान जब सोया होगा
कुदरत ने तुझे तब बनाया होगा।।

तेरी तारीफ़ में शब्द पड़ेंगे कम
मेरी कल्पनाएं भी गई हैं थम
तू कुदरत का इकलौता तोफा है
रंग, रूप, नूर तुझे सब सौंपा है
सारा ये जहान जब सोया होगा
कुदरत ने तुझे तब बनाया होगा।।

एक कविता वफादारी के नाम (Love Kavita Hindi Me 2024)

न मिलावट है, न बनावट है
न कमज़ोर है, न कठोर है
चौबीस कैरट खरा है मेरा प्यार
फायदे का सौदा कर लो यार।

वफ़ादारी है, ज़िम्मेदारी है
फ़िकर है, हरदम ज़िकर है
चौबीस कैरट खरा है मेरा प्यार
फायदे का सौदा कर लो यार।

उम्र हो जाएगी चाहे जितनी
क़ीमत में कमी नहीं आएगी
मिल जाऊँगा चाहे मिट्टी में
चमक कभी नहीं जाएगी
चौबीस कैरट खरा है मेरा प्यार
फायदे का सौदा कर लो यार।

महफ़िल में तेरी शान बनूँगा
दुःख के पल में जान बनूँगा
बुरी नज़रों से मुझको बचाना
दिल की अलमारी में मुझको छुपाना
चौबीस कैरट खरा है मेरा प्यार
फायदे का सौदा कर लो यार।

सम्मान है, अभिमान है
विश्वास है, अहसास है
यही हॉलमार्क निशान है
चौबीस कैरट खरा है मेरा प्यार
फायदे का सौदा कर लो यार।

एक कविता दिल की रानी के नाम (Love Kavita In Hindi For Girlfriend 2024)

एक वादा मैं तुमसे करता हूँ
सारे जहाँ के सामने कहता हूँ
जब तक मेरी साँसें चलेंगी
तू मेरे दिल की रानी रहेगी।।

आँखें कभी न होने दूँगा नम
खुशियाँ कभी न होने दूँगा कम
फूलों की तरह प्यार करूँगा
काँटों की तरह ख़्याल रखूँगा।
एक वादा मैं तुमसे करता हूँ
सारे जहाँ के सामने कहता हूँ
जब तक मेरी साँसें चलेंगी
तू मेरे दिल की रानी रहेगी।।

चाहे हो परी, चाहे विश्वसुंदरी
तू ही अंतिम चाहत है मेरी
हर जनम में मिले तेरा साथ
हर दुआ में मैं माँगू तेरा हाथ।
एक वादा मैं तुमसे करता हूँ
सारे जहाँ के सामने कहता हूँ
जब तक मेरी साँसें चलेंगी
तू मेरे दिल की रानी रहेगी।।

ढल जाएगी जब ये जवानी
चेहरे पर झुर्रियों की निशानी
तब भी इतना ही प्यार करूँगा
छड़ी बनकर हरदम साथ चलूँगा।
एक वादा मैं तुमसे करता हूँ
सारे जहाँ के सामने कहता हूँ
जब तक मेरी साँसें चलेंगी
तू मेरे दिल की रानी रहेगी।।

यह भी पढ़ें: 2024 की सबसे धमाकेदार कविता

Kavita Kosh

Leave a Comment